Home

हिन्दी कविता- हम आगे बढ़ते जाएँगे(Hindi poem for kids)





ह्म नन्हे नन्हे बच्चे हैं
आगे बढ़ते जाएँगे,
पर बाधाएँ जो भी आएँ,
उनसे टकराएँगे,
हम नन्हे नन्हे बच्चे हैं
आगे बढ़ते जाएँगे !

हम ठंडे-मीठे झरने हैं,
झर-झर कर गाएँगे,
हम सूरज बन दुनिया का,
अंधकार मिटाएँगे,
हम नन्हे नन्हे बच्चे हैं
आगे बढ़ते जाएँगे !

हम तेज हवा के झौंके हैं
कभी हाथ ने आएँगे,
सागर की लहरों से हम
घुलमिल जाएँगे,
हम नन्हे नन्हे बच्चे हैं
आगे बढ़ते जाएँगे!

हम रंग-बिरंगे फूल बन
खुश्बू फ़ैलाएँगे,
भारत माँ की बगिया को
खिल-खिल महकाएंगे,
हम नन्हे नन्हे बच्चे हैं
आगे बढ़ते जाएँगे!

More hindi Poems for kids