Home

हिन्दी कविता- ए कृष्णा तुम फिर आओ (Hindi poem for kids)





प्रेम की मूरत, ए कृष्णा तुम फिर आओ,
इस धरा के पाप को, एक बार फिर मिटाओ

सर से उपर हो चुका है, पानी पाप का,
आ कर के तुम, एस अत्याचार को मिटाओ

बात तुमने जो कही थी, शायद भूल चुके हे लोग,
आ कर कह तुम फिर से, गीता का पाठ पढ़ाओ

प्रेम की मूरत, ए कृष्णा तुम फिर आओ

More hindi Poems for kids