Home

हिन्दी कविता- मेरी पतंग (Hindi poem for kids)





चिड़ियों और बदल के संग,
आकाश में उड़ी मेरी पतंग !
नीले गोले लाल चौकोर,
लंबी पीली पतली डोर !

हवा में हिचकोले खाती जाए,
इठलाती बाल खाती जाए !
इक दिन मैने पेंच लड़ाई,
कई पतंगें काट गिराई !

More hindi Poems for kids