Home

हिन्दी कविता- जुगनू (Hindi poem for kids)





जुगनू भाई, जुगनू भाई
कहाँ चले?
जहाँ अंधेरा छाया
हम ती वहीं चले !
जुगनू भाई
अँधियारे में क्यों जाते ?
भूली-भटकी तितली को
घर पहुँचाते !
जुगनू भाई
किसकी टॉर्च चुराई है ?
हमने तो यह चमक
जनम से पाई है !
जुगनू भाई
हमको भी चमकाओगे ?
चम्कोगे जब,
काम किसी के आओगे!

More hindi Poems for kids