Home

हिन्दी कविता- दो अक्तूबर प्यारा दिन (Hindi poem for kids)





दो अक्तूबर प्यारा दिन.
बापू जन्में थे इस दिन.
अट्ठारह सौ उनहत्तर वर्ष,
प्यारा सबसे न्यारा दिन.

सत्य मार्ग पर चलते थे.
नहीं किसी से डरते थे.
हक़ की खातिर दृढ़ होकर ,
अनशन भी वो करते थे.

रुई से सूत बनाते थे.
चरखा नित्य चलाते थे.
अपनाओ उत्पाद स्वदेशी,
सबको यह सिखलाते थे.

शांति अहिंसा को अपनाया.
सत्य प्रेम जग में फैलाया.
हिंसा से जो दूर रहे,
कायर नहीं ये समझाया.

More hindi Poems for kids